diwali 2017 | दीपावली 2017 के बारे में रोचक तथ्य

diwali 2017 | दीपावली 2017 के बारे में रोचक तथ्य:-

diwali 2017 | दीपावली 2017 के बारे में रोचक तथ्य, दिवाली हिन्दुओ का धार्मिक एवम  अंधकार हटाने वाला और पूजा आदि का त्यौहार है। यह त्यौहार भारत के साथ साथ देश के बाहर भी कई स्थानों पर हर्षौल्लास के साथ मनाया जाता है। इस त्यौहार को  प्रकाश का त्यौहार कहा जाता है। यह पुरे संसार में मुख्यतः हिन्दूओं और जैनियों द्वारा मनाया जाता है।

diwali 2017

diwali 2017

धनतेरस, नरक चतुर्दशी, अमावश्या, कार्तिक सुधा पधमी, यम द्वितीया या भाई दूज ये पाँच दिन हिन्दू त्यौहार मानते है। धनतेरस अश्वनी महीने के पहले दिन से शुरु होता है और भैया दूज कार्तिक महीने के आखरी दिन का त्यौहार है।  diwali त्यौहार की तिथि हिन्दू कलैण्डर के अनुसार र्निधारित रहती है। यह त्यौहार बहुत खुशी के साथ लाइटों, दिये, मोमबत्तियॉ जलाकर आपस में मिठाईयॉ बाँटकर एक दूसरे के गले लगकर औऱ भी बहुत सारी गतिविधियों के साथ मनाया जाता है।

deepavali festival

deepavali festival

इस दिन माता लक्ष्मी और गणेश महाराज की पूजा त्यौहारोत्सव हमें अन्धकार से प्रकाश की ओर ले जाती है। यह त्यौहार हमें अच्छे कार्यों को करने के लिये शक्ति देता है। इस दिन चारों ओर दिये और मोमबत्ती जलाकर वातावरण को प्रकाशमान किया जाता है। deepavali का त्यौहार वर्ष का अधिक सुंदर और शांतिपूर्ण त्यौहार है जो मनुष्य को उसके के जीवन में असली खुशी के पल प्रदान प्रदान करता है।

diwali celebration, 2017

diwali celebration, 2017

diwali celebration पर राष्ट्रीय अवकाश घोषित किया जाता है ताकि सभी लोग अपने मित्रों और परिवार के साथ त्यौहार को माना सके। इस त्यौहार के नजदीक आते ही लोग अपने घरों, कर्यालयों में रंग-रोगन तथा साफ-सफाई कराते है। हिन्दू धर्म की मान्यता के अनुसार  दिवाली मनाने (diwali celebration) के बहुत सारे पौराणिक और ऐतिहासिक कारण है।

diwali festival information

diwali festival information

हिन्दू महाकाव्य रामायण के अनुसार इस दिन भगवान रामचंदर जी राक्षस राजा रावण को मारकर तथा लंका पर जीत हासिल कर अपनी पत्नी सीता और भाई लक्ष्मण के साथ अपने राज्य अयोध्या में बहुत लम्बे समय 14 वर्ष बाद वापस आये थे। इसी ख़ुशी में अयोध्या के लोगो ने भगवान राम व उनकी पत्नी और भाई लक्ष्मण के आने की ख़ुशी में  पूरे राज्य को सजाकर, मिट्टी से बने दिये और पटाखे जलाये थे।

यह माना जाता है कि देवी लक्ष्मी धन और समृद्धि की स्वामिनी है। इसलिए इस दिन माता लक्ष्मी के जन्मदिन के उपलक्ष्य में दिवाली के त्यौहार के रूप में मनाना शुरू कर दिया।

Tagline-diwali 2017, diwali, diwali festival, deepavali festival, diwali celebration, 2017, deepavali, diwali festival information, festivals of india diwali,

Follow us on Facebook Group

इन्हें भी जरुर पढ़े

Pan Card Form Apply Online in Hindi, पैन कार्ड ऑनलाइन आवेदन और बनाने की सारी जानकारी
Aadhaar Card Online Download in Hindi, आधार कार्ड की डिजिटल कॉपी ऐसे करें ऑनलाइन डाउनलोड
Apply Passport Online in Hindi, पासपोर्ट ऑनलाइन बनवाने का तरीका
विज्ञान के बारे में 22 रोचक तथ्य | Science facts in Hindi
गूगल के बारे में 30 गजब रोचक तथ्य | Google Facts in Hindi
CID और CBI में क्या अंतर होता है | Difference between CID and CBI in Hindi

प्रिय पाठको नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में जरुर बताये हमारे द्वारा लिखी गई पोस्ट आपको कैसी लगी, उम्मीद है आपको उपरलिखित जानकारी अवश्य पसंद आई होगी।

Author: Karamvir

Hello friend my self is Karamvir from, Madlauda, District Panipat, Haryana, (India) i will provide you information about latest technology, general knowledge and much more. I hope you will be satisfied with me. For more info you can email me on this address: fmsmld765@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *